नेवर टूगेदर Never Together Lyrics in Hindi – Manan Bhardwaj

Never Together lyrics in Hindi sung by Manan Bhardwaj. The song is written and music is composed by Manan Bhardwaj.

Never Together Song Details

Song TitleNever Together
SingerManan Bhardwaj
LyricsManan Bhardwaj
Music Manan Bhardwaj
Music LabelT-Series

Never Together Lyrics in Hindi – Manan Bhardwaj

मेरा दिल मुझे धोखे दे रहा
कहता अब भी हो सकता तू मेरा
पर तेरी तो शादी हो रही है
पर तेरी तो शादी हो रही है

 कहता एक बार और पुछ ले
ऐसे कैसे रहेगा तू सोच ले
पर तेरी तो शादी हो रही है
पर तेरी तो शादी हो रही है

तूने दूर है चले जाना
फिर मुड़के भी ना आना
मुझे कोसेगा जमाना
की कुछ कर ना सका दीवाना
की तेरी शादी हो रही है
की तेरी तो शादी हो रही है

दुल्हन के जोड़े में कितनी प्यारी
लग रही है मेरी जान
हाथो में मेहंदी है उसी रंग की
पर है लिखा किसी और का नाम

रहता जहां था मैं उस ही जगह पे
और कोई आके है बसा
तेरे बिना नहीं सोची जिंदगी
तुझसे ही तो जुडी थी हर खुशी
पर तेरी तो शादी हो रही है
पर तेरी तो शादी हो रही है

सुबह होते ही तुझे चले जाना है
नए बंधनों को कल से निभाना है
मेरे साथ किये वादे भूल जाना
मुझे कल से ना तू याद आना
की तुझको कुछ भी ना कह पाये
और आंसू बहते जाये
मैं कर भी क्या सकता हूँ
कोई आके समझाये
की तेरी शादी हो रही है
की तेरी तो शादी हो रही है

Never Together Lyrics in English

Mera dil mujhe dokhe de raha
Kehta ab bhi ho sakta tu mera
Par teri to shadi ho rahi hai
Par teri to shadi ho rahi hai

 Kehta ek baar aur puchh le
Aise kaise rahega tu soch le
Par teri to shadi ho rahi hai
Par teri to shadi ho rahi hai

Tune door hai chale jaana
Phir mudke bhi naa aana
Mujhe kosega jamana
Ki kuch kar naa saka deewaana
Ki teri shadi ho rahi hai
Ki teri to shadi ho rahi hai

Dulhan ke jode mein kitni pyaari
Lag rahi hai meri jaan
Haathon mein mehendi hai usi rang ki
Par hai likha kisi aur kaa naam

Rehta jahan tha main us hi jagah pe
Aur koi aake hai basaa
Tere bina nahi sochi zindagi
Tujhse hi to judi thi har khushi
Par teri to shadi ho rahi hai
Par teri to shadi ho rahi hai

Subah hote hi tujhe chale jaana hai
Naye bandhano ko kal se nibhaana hai
Mere saath kiye waade bhool jaana
Mujhe kal se naa tu yaad aana
Ki tujhko kuch bhi naa keh paaye
Aur aansu behte jaaye
Main kar bhi kya sakta hun
Koi aake samjhaaye
Ki teri shadi ho rahi hai
Ki teri to shadi ho rahi hai

 

Leave a Comment