TUMHE GURUR BADA HAI KE HUSN WALE HO LYRICS – Altaf raja, Sadhana sargam | Ganga Ki Kasam (1999)

Tumhe Gurur Bada Hai Ke Husn Wale Ho Lyrics (तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो Lyrics in Hindi): The song is sung by and , and has music by Bappi Lahiri while has written the Tumhe Gurur Bada Hai Ke Husn Wale Ho Lyrics. The music video of the Tumhe Gurur Bada Hai Ke Husn Wale Ho song is directed by T. L. V. Prasad , and it features Mithun Chakraborty, Jackie Shroff, Dipti Bhatnagar, Mink Singh, Johnny Lever, Shakti Kapoor, Dalip Tahil, Mukesh Rishi, and Raza Murad.

Tumhe Gurur Bada Hai Ke Husn Wale Ho Song Details

📌Song Title Tumhe Gurur Bada Hai Ke Husn Wale Ho
🎞️Album Ganga Ki Kasam
🎤 Singer Altaf Raja and Sadhana Sargam
✍️Lyrics Maya Govind
🎼Music Maya Govind
🏷️ Music Label Venus Records

▶ See the music video of Tumhe Gurur Bada Hai Ke Husn Wale Ho Song on Venus Records  YouTube channel for your reference and song details.

 

TUMHE GURUR BADA HAI KE HUSN WALE HO LYRICS

Yeh mukabala humse na karo
Hum ishq wale hai
Tumhare husn pe hum bijliyan gira denge
Ho husn ke samne ishq kaha thehra hai
Nazar mila ke deewana tumhe bana denge
Nazar mila ke deewana tumhe bana denge

Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Rang gora hai magar dil ke bade kaale ho
Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Rang gora hai magar dil ke bade kaale ho
Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Rang gora hai magar dil ke bade kaale ho

Ho sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Tum dete ho daga bante bhole bhale ho
Sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Tum dete ho daga bante bhole bhale ho
Sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Tum dete ho daga bante bhole bhale ho
Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Rang gora hai magar dil ke bade kaale ho
Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Rang gora hai magar dil ke bade kaale ho

Tumhe aata hai dil ko tod dena
Tadapta aashiqo ko chhod dena
Kitaabe ishq mein badnam ho tum
Zaher ka ek zalak ka jaam ho tum
Bawafai mein ho mashur bade
Koi chakkar mein tumhare na pade

Ho apni aukat mein rahiyega janab
Ek nambar ke aap to hai kharab
Pehle khate hai mohabbat ki kasam
Bad shaadi ke phir dhate hai sitam
Aap haseeno ko saja dete hai
Husn walo ko daga dete hai
Ha sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Tum dete ho daga bante bhole bhale ho
Sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Tum dete ho daga bante bhole bhale ho
Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Rang gora hai magar dil ke bade kaale ho
Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Rang gora hai magar dil ke bade kaale ho

Lomdi ki tarah makkar ho tum
Kauwe ki tarah hoshiyar ho tum
Tum to girkit sa rang badalti ho
Aur nagin ki tarah dasti ho
Nazre to desi fer leti ho
Gidad bhabhaki hamesha rehti ho
Dank bichhu ki tarah marti ho
Tum to bandar ki tarah katati ho
Kisi sayar ne khub kaha wallah
Nazuki aap ki subhan allah
Aap makhmal pe agar chalte hai
Kitne nazuk hai paav chhilte hai
Chudiya boj hai batati ho
Masala pic ke thak jati ho
Tumse talwar kya uth payegi
Kamar nazuk hai lachak jayegi

Ho…
Hum pe ilzam yeh galat hai sabhi
Aap ke tar ab na dekho ajee
Raat din humko chheda karte ho
Aage pichhe hamare firte ho
Hum na hote to kaha dil lagate
Kise paigame mohabbat sunate
Kaha aabad kiya hai tumne
Hume barbad kiya hai tumne
Sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Tum dete ho daga bante bhole bhale ho
Sharif tum bhi nahi tum kaha nirale ho
Tum dete ho daga bante bhole bhale ho
Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Rang gora hai magar dil ke bade kaale ho
Tumhe gurur bada hai ke husn wale ho
Rang gora hai magar dil ke bade kaale ho

Aaj aurat ka daur aaya hai
Ek naya inkalab laya hai
Aaj aurat hai minister dekho
Aaj aurat hai doctor dekho
Aaj aurat ki badi izzat hai
Taaj hai sar pe aur hukumat hai
Khudara humko na badnam karo
Aap to aurat ka aitram karo

Phir bhi aurat hamesha aurat hai
Ghar mein baithe to khubsurat hai
Tumhara dharm hai seva hamari
Badegi shaan bhi isme tumhari
Manlo haar abhi aaj yahi
Humse kamjor ho yeh johrajabi
Manlo haar abhi aaj yahi
Humse kamjor ho yeh johrajabi
Na hum bade na tum hai barabar dono
Chhodo takarar mohabbat ki koi baat kare
Sare sikwe gile bhula ke chalo
Aao lag jaaye mohabbat se gale
Chhodo takarar mohabbat ki koi baat kare
Chandani raat mein hum tumse mulakat kare
Chhodo takarar mohabbat ki koi baat kare
Chandani raat mein hum tumse mulakat kare
Chhodo takarar mohabbat ki koi baat kare
Chandani raat mein hum tumse mulakat kare.

Written by:
Maya Govind

 

तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो LYRICS IN HINDI

यह मुकाबला हमसे न करो
हम इश्क वाले हैं
तुम्हारे हुस्न पे हम बिजलियाँ गिरा देंगे
हो हुस्न के सामने इश्क कहाँ ठहरा है
नज़र मिला के दीवाना तुम्हें बना देंगे
नज़र मिला के दीवाना तुम्हें बना देंगे

तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
रंग गोरा है मगर दिल के बड़े काले हो
तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
रंग गोरा है मगर दिल के बड़े काले हो
तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
रंग गोरा है मगर दिल के बड़े काले हो

हो शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
तुम देते हो दगा बनते भोले भाले हो
शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
तुम देते हो दगा बनते भोले भाले हो
शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
तुम देते हो दगा बनते भोले भाले हो
तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
रंग गोरा है मगर दिल के बड़े काले हो
तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
रंग गोरा है मगर दिल के बड़े काले हो

तुम्हें आता है दिल को तोड़ देना
तड़पता आशिकों को छोड़ देना
किताबे इश्क में बदनाम हो तुम
ज़हर का एक ज़लक का जाम हो तुम
बेवफाई में हो मशहूर बड़े
कोई चक्कर में तुम्हारे न पड़े

हो अपनी औकात में रहिएगा जनाब
एक नंबर के आप तो हैं खराब
पहले खाते हैं मोहब्बत की कसम
बाद शादी के फिर ढाते हैं सितम
आप हसीनों को सजा देते हैं
हुस्न वालों को दगा देते हैं
हाँ शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
तुम देते हो दगा बनते भोले भाले हो
शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
तुम देते हो दगा बनते भोले भाले हो
तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
रंग गोरा है मगर दिल के बड़े काले हो
तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
रंग गोरा है मगर दिल के बड़े काले हो

लोमड़ी की तरह मक्कार हो तुम
कौवे की तरह होशियार हो तुम
तुम तो गिरगिट सा रंग बदलती हो
और नागिन की तरह डसती हो
नजरें तो देसी फेर लेती हो
गीदड़ भभकी हमेशा रहती हो
डंक बिच्छू की तरह मारती हो
तुम तो बंदर की तरह काटती हो
किसी शायर ने खूब कहा वल्लाह
नाजुक़ी आप की सुब्हान अल्लाह
आप मखमल पे अगर चलते हैं
कितने नाज़ुक हैं पाँव छिलते हैं
चूड़ियाँ बोझ हैं बताती हो
मसाला पीस के थक जाती हो
तुमसे तलवार क्या उठ पायेगी
कमर नाज़ुक है लचक जायेगी

हो…
हम पे इल्ज़ाम यह गलत है सभी
आप के तौर अब न देखो अजी
रात दिन हमको छेड़ा करते हो
आगे पीछे हमारे फिरते हो
हम न होते तो कहाँ दिल लगाते
किसे पैगाम-ए-मोहब्बत सुनाते
कहाँ आबाद किया है तुमने
हमें बर्बाद किया है तुमने
शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
तुम देते हो दगा बनते भोले भाले हो
शरीफ तुम भी नहीं तुम कहाँ निराले हो
तुम देते हो दगा बनते भोले भाले हो
तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
रंग गोरा है मगर दिल के बड़े काले हो
तुम्हें गुरूर बड़ा है के हुस्न वाले हो
रंग गोरा है मगर दिल के बड़े काले हो

आज औरत का दौर आया है
एक नया इंकलाब लाया है
आज औरत है मिनिस्टर देखो
आज औरत है डॉक्टर देखो
आज औरत की बड़ी इज़्ज़त है
ताज है सर पे और हुकूमत है
खुदारा हमको न बदनाम करो
आप तो औरत का ऐतराम करो

फिर भी औरत हमेशा औरत है
घर में बैठे तो खूबसूरत है
तुम्हारा धर्म है सेवा हमारी
बढ़ेगी शान भी इसमें तुम्हारी
मान लो हार अभी आज यही
हमसे कमजोर हो ये जौहराजबी
मान लो हार अभी आज यही
हमसे कमजोर हो ये जौहराजबी
न हम बड़े न तुम हैं बराबर दोनों
छोड़ो तकरार मोहब्बत की कोई बात करे
सारे शिकवे गिले भुला के चलो
आओ लग जाएं मोहब्बत से गले
छोड़ो तकरार मोहब्बत की कोई बात करे
चाँदनी रात में हम तुमसे मुलाकात करें
छोड़ो तकरार मोहब्बत की कोई बात करे
चाँदनी रात में हम तुमसे मुलाकात करें
छोड़ो तकरार मोहब्बत की कोई बात करे
चाँदनी रात में हम तुमसे मुलाकात करें।

Written by:
Maya Govind





Leave a Comment

Paudi Paudi Chadta Ja Lyrics – Lata Mangeshkar 2024: Tales of Hope, Resilience, and New Beginnings 10 motivational quotes by Jackie Chan